श्रम विभाग का गलत चार्ट देखकर भड़क गए मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या,

सभा में गलत योजनाओ के लगे फ्लेक्स को उतरवाया, डिप्टी लेबर कमिश्नर और श्रम अधिकारी  के एक दिन के वेतन काटने का दिया आदेश

बाराबंकी -भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मचारी कल्याण बोर्ड के कार्यक्रम में शामिल होने के लिये प्रदेश सरकार के श्रम मन्त्री स्वामी प्रसाद मौर्या मुख्य अतिथि बनकर मुसीबत बन गए यहाँ अधिकारियों द्वारा लगाया गया गलत आंकड़ों का कैलेंडर देखकर भड़क गए और मंच से ही अधिकारियों को एक दिन का वेतन काटे जाने का फरमान सुना दिया। मन्त्री की इस नाराजगी से घबराए अधिकारियों ने आनन - फानन में कैलेण्डर को मंच से नोच कर फेंका।
ज़िले में आज कर्मचारी कल्याण बोर्ड द्वारा आयोजित भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मचारी कल्याण बोर्ड कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश सरकार के श्रममन्त्री स्वामी प्रसाद मौर्य बतौर मुख्यअतिथि शामिल हुए और कर्मचारियों के कल्याण के लिए सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं के सम्बंध में जानकारी दी। मंच से भाषण देते देते अचानक इनकी नज़र मंच पर अधिकारियों द्वारा लगाई श्रमिक हित की योजनाओं के चार्ट पर पड़ी। कैलेण्डर देख कर मन्त्री का पारा सांतवे आसमान पर पहुंच गया।
अधिकारियों की इस गलती पर मन्त्री ने कहा कि बाबा आदम के जमाने की योजनाओं का कैलेंडर यहां लगाया किसने है। कोई जवाब मिल पाता इससे पहले ही मन्त्री ने अधिकारियों का एक दिन का वेतन काटने का आदेश सुना दिया। मन्त्री की त्यौरियां चढ़ी देख कर आनन-फानन में तुरन्त कैलेण्डर को उतरवाया गया है।
मन्त्री ने कहा कि जब हमारी सरकार शिशु लाभ के रूप में लड़की की पैदाइश पर 15000 रुपये और लड़के की पैदाइश 12000 की आर्थिक सहायता देती है तो यहां लड़की की पैदाइश पर 12000 और लड़के की पैदाइश पर 10000 रुपये के गलत आंकड़ा देने वाला गलत कैलेंडर मंच पर क्यों लगवाया गया।
लेबर मिनिस्टर स्वामी प्रसाद मौर्या ने कहा कि गलत जानकारी का आकड़ा देते हुए ये चार्ट यहाँ कैसे लगाया गया। मुझे शर्म आती है।कि जब आपको खुद जानकारी नहीं है तो श्रमिको के कल्याण के लिए क्या करोगे। योजनाओ का लाभ उनतक कैसे पहुचेगा। ये हमारी समझ में नहीं आता है। ये बहुत ही शर्मनाक बात है। मंत्री से जब बाद में सवाल पुछा गया तो उन्होने कहा आप लोगों की नज़र जाए उससे पहले मैंने उन की गलती का दंड दे दिया हैं।

News Posted on: 04-01-2018
वीडियो न्यूज़