उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा के दामाद सिद्दार्थ अवस्थी MP प्रियंका के साथ,सुंदर लाल दीक्षित खेमा उदास

 

 बाराबंकी/उप मुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा के दामाद 30 साल उम्र के नवजवान बीजेपी नेता सिद्दार्थ अवस्थी बीते दिनों तहलका टुडे की खबर पर आज सफाई पेश करने ज़िले के पत्रकारों से रूबरू हुए,गिफ्ट और लंच के प्रपंच में डालकर उन्होंने बसपा नेता के भाई होने के दावे के साथ,माँ प्रेमा अवस्थी जो कांग्रेस से लखनऊ में मेयर प्रत्याशी थी उनकी मर्ज़ी के खिलाफ जाकर बीजेपी प्रत्याशी सयुंक्त भाटिया के लिए वोट मांगने का खुलासा कर सबको हैरत में डाल दिया।वही सांसद प्रियंका रावत का खुलकर पक्ष लेकर सियासत की शातिर चाल चलने वाले सूंदर लाल खेमे को उदास कर दिया।
सिद्दार्थ ने आगे कहा की स्वर्ण दलित वाले सुंदर लाल की नई खुराफात वाले बयान पर साफ कहा कि भाजपा में सब का सम्मान हैं।यहाँ स्वर्ण दलित नही होता।जम्हूरियत का असली चेहरा मेरा परिवार है।बाराबंकी जनपद का बेटा हूँ।मेरे पिता मरहूम पुत्तू अवस्थी जी ने  बहुत नेक काम किये हैं,आज हर गरीब के दिलो में उनकी याद,और कई घरों में आज भी उनके नाम से चूल्हा जलता हैं।
सिद्दार्थ की कमज़ोर नस हैं उनका मरहूम बाप,उस बेटे से पूछिए जो अपने पिता की गरिमा बढ़ाने के लिए लंदन से लौट आया।
मालूम हो सांसद प्रियंका रावत व पूर्व विधायक सुंदरलाल दीक्षित के बीच बढी राजनैतिक रार में  अचानक तारीफ में पूर्व विधायक सुरेन्द्र नाथ अवस्थी जी पर सुंदर लाल दीक्षित के राजनीतिक सियासत में आरोप प्रतायरोप के बीच उनको टेंशन देने के भी चर्चे चले और कुछ लोग पुत्तू अवस्थी जी के मुकाम को पाने के लिए चाले चलने लगे । मौके की नजाकत को भाप कर उनके पुत्र सिद्धार्थ अवस्थी ने पिता के नाम पर सियासत करने वालो की कड़ी आलोचना कर कहा बीते कई दिनों से राजनीति हितों को लेकर पूर्व विधायक सुरेंद्र नाथ अवस्थी को बीच में घसीटा गया।सधे हुए लफ्जो में सिद्दार्थ ने जवाब देते हुए कहा बाराबंकी की राजनीति हैदरगढ से शुरु होती हुई चली आ रही है।सांसद प्रियंका रावत पर  पूछे गए सवालो को वह एक राजनीतिक खिलाड़ी की तरह टाल गए। लेकिन यह कहने से परहेज नहीं किया कि मैं पार्टी के साथ खडा नजर आऊंगा।
सिद्दार्थ ने कहा भाजपा का सिपाही हूँ, रामनगर की पावन भूमि से सियासत की शुरुआत की घूमा टहला हूँ।

 

News Posted on: 23-12-2017
वीडियो न्यूज़