गरीबो का नेता रितेश मिश्रा का सट्टी बाजार हटाये जाने से खौला खून,डीएम ऑफिस पर प्रदर्शन कर सौपा ज्ञापन

गरीबो का नेता रितेश मिश्रा का सट्टी बाजार हटाये जाने से खौला खून,डीएम ऑफिस पर प्रदर्शन कर सौपा ज्ञापन,डीएम  ने दिया यथास्थित पर ही बाजार लगने का आश्वासन 

बाराबंकी - श्री अवध एडवोकेट्स वेलफेयर सोसायटी सॉस उत्तर प्रदेश के  रितेष कुमार मिश्रा  ने सट्टी बाजार को हटाये जाने के विरोध में व्यापारियों के साथ मिलकर जिलाधिकारी को ज्ञापन दिया। जिसपर जिलाधिकारी ने सट्टी बाजार अपने यथा स्थित स्थान पर लगाये जाने का आश्वासन दिया जहा   पुनः व्यापारियों ने अपनी दुकान लगायी। 
अवगत हो कि सट्टी बाजार जो गरीबों की बाजार है जिसको बड़े पूंजीपति  हटवाने की साजिश कर रहे है जिसके तहत आज जिला प्रशासन द्वारा सट्टी बाजार को हटाते हुए पानी टंकी से फजुल्लागंज लगवाये जाने का प्रयास किया गया। जिसपर पट्टीदार व्यापारियों में  रोष  व्याप्त हो गया ,सट्टी बाजार के पट्टी व्यापारियों  रितेश मिश्रा से मिले उन्होंने  व्यापारियों के साथ मिलकर तत्काल जिलाधिकारी के कार्यालय का घेराव करते हुए धरने पर बैठ गये जिस पर जिलाधिकारी व कोतवाली प्रभारी से वार्ता हुयी और जिलाधिकारी ने पूर्व की भाति सट्टी बाजार लगाने का आदेश मौखिक रूप से करते हुए प्रभारी निरीक्षक कोतवाली को व्यवस्था देखने का आदेश दिया। जिसपर सट्टी बाजार व्यापारिओ ने  खुश होकर अपनी अपनी दुकाने लगायी।
समाजसेवी अधिवक्ता रितेश मिश्र ने बताया कि साप्ताहिक सट्टी बाजार को समाप्त करने का प्रयास करते हुए बड़े पूॅजीपतियों को लाभ दिलाने का प्रयास कर रहे है और इसी प्रयास से वर्तमान सरकार के अस्तित्व को गिराने का प्रयास में लगे हुए है जिसके सन्दर्भ में पूर्व में मुख्यमंत्री को शिकायत पत्र सं0-40017617003733 व महामहिम राष्ट्रपति को शिकायत सं0-60000170068004 व आप श्रीमान जी को शिकायत सं0-20017617006886 दिया था जिसमें आप द्वारा निस्तारण करते समय पत्रांक सं0-641/मु0का0/2017-18 दिनांकित 21.07.2017 को लिखित रूप से बताया गया था कि साप्ताहिक सट्टी बाजार हटायी नही जा रही है बल्कि आवागमन की व्यवस्था बनाये रखने के लिए जगह को व्यवस्थित करायी जा रही है और अपनी ही जगह पर लगेगी इसे कोई हटायेगा नही लेकिन फिर भी आज दिनांक 22.12.2017 को पुनः सट्टी बाजार हटाने का प्रयास किया जा रहा है जो कि पट्टीदार दुकानदारो के साथ नाइंसाफी है, यदि सट्टी बाजार हटा दिया गया तो इन गरीबो को तन ढकने हेतु सस्ता कपड़ा कहॉ से मिलेगा? और इसका जिम्मेदार कौन होगा? और कहीं न कहीं यह नीतियॉ गरीबो को हटाने व गुलाम बनाने की नीतियॉ है जो कि गरीबो के साथ अन्याय होगा। 
ज्ञापन देने में रितेश कुमार मिश्र सहित अनिल सक्सेना, प्रजीत श्रीवास्तव, राजेश कपूर, हरिओम गुप्ता, मुन्नी देवी, बल्लो, दूपी निगम, सुदामा गुप्ता, कंचन, उमानाग, आमिर खान, संदीप, मैकू, नसरीन बानों, मो0 कासिम, राम पति, अखिलेश, मो0 नदीम, संतोष गुप्ता, हैदर, दिनेश कश्यप, राकेश कश्यप, अफसर, संदीप, रोहित, अंकित, वीरेन्द्र, राजा, भानू यादव, उबैद, मो0 आबिद, मो0 सलीम, रवीन्द्र सोनकर, मो0 आकिब, योगेन्द्र अग्रवाल आदि सैकड़ो लोग उपस्थित रहें। 
  

News Posted on: 22-12-2017
वीडियो न्यूज़