मायावती का बीजेपी को खुले आम चैलेंज,बैलट पेपर से हुआ मतदान तो 2019 में बीजेपी की हार तय:

नगर निकाय चुनाव में मिली सफलता से उत्साहित बसपा सुप्रीमो मायावती ने शनिवार को ईवीएम पर एक बार फिर निशाना साधा. मायावती ने बैलट पेपर से चुनाव करने की मांग करते हुए कहा कि यदि बीजेपी ईमानदार है और लोकतंत्र में विश्वास करती है तो ईवीएम के इस्तेमाल को बंद करे.
लखनऊ में डॉ भीमराव अम्बेडकर को बौद्ध दीक्षा दिलाने वाले भिक्षु प्रज्ञानंद के निधन पर उन्हें श्रद्धांजलि देने पहुंची मायावती ने ये बात कही.
मायावती ने कहा, “यदि बीजेपी ईमानदार है और लोकतंत्र में विश्वास करती है तो ईवीएम के इस्तेमाल को बंद करे और बैलट पेपर से चुनाव करवाए. 2019 में लोकसभा के चुनाव होने हैं. अगर बीजेपी को विश्वास है कि जनता उनके साथ है तो वे बैलट पेपर से चुनाव को लागू करे. मैं यह दावे के साथ कहती हूं कि 2019 में बैलट पेपर से मतदान हुए तो बीजेपी दुबारा सत्ता में नहीं आएगी.”
मायावती ने निकाय चुनाव में सरकारी मशीनरी के दुरूपयोग का भी आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि अगर धांधली नहीं होती बसपा का प्रदर्शन और अच्छा होता. हालांकि उन्होंने इस प्रदर्शन पर संतोष भी व्यक्त किया.
नगर निकाय चुनाव में मिली जीत से उत्साहित बसपा सुप्रीमो ने अपनी इस जीत को श्रेय सर्वसमाज के लोगो को दिया.
इससे पहले मायावती ने बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर को बौध धर्म की दीक्षा देने वाले बौद्ध भिक्षु प्रज्ञानंद के निधन के बाद आज उन्हें राजधानी लखनऊ स्थित बोधानंद बौद्ध विहार श्रृद्धांजलि दी.
इस दौरान बसपा सुप्रीमो मायावती ने बौद्ध भिक्षु प्रज्ञानंद द्वारा समता मूलक समाज बनाने के लिये चलाये जा रहे मूवमेंट के खत्म होने पर आपत्ति जताई. उन्होंने प्रज्ञानंद के निधन पर अपनी और अपनी पार्टी की ओर से गहरा दुख जताया.

News Posted on: 02-12-2017
वीडियो न्यूज़