वाह रे कश्मीरी लानत पीटे मुसलमान शबे क़द्र २७ रमजान को मस्जिद के बाहर मुस्लिम DSP को पीट-पीटकर मार डाला,मोदी और उनकी महबूबा तुम यज़ीदी मुसलमानो माफ़ कर दे,लेकिन अल्लाह नहीं माफ़  करेगा क़ातिलों तुमको.......


E-Paper

ईमानदार आईएएस अनुराग तिवारी की हत्या से बदहवास परिवार ने की CM योगी से मुलाक़ात ,सीबीआई जांच की मांग

 

लखनऊ.आईएएस अनुराग तिवारी के मौत के मामले में सोमवार को उनके परिजन सीएम योगी से मिलने पहुंचे। परिजनों ने सीएम से मुलाकात कर इस मामले की सीबीआई से जांच कराने की मांग रखी। बता दें, कर्नाटक कैडर के आईएएस अनुराग तिवारी की 17 मई को यहां संदिग्ध हालात में मौत हुई थी। उनकी बॉडी लखनऊ के हजरतगंज में मीराबाई गेस्ट हाउस के पास सड़क पर मिली थी। सीएम सीबीआई जांच के लिए केंद्र को लिखेंगे पत्र...
सोमवार को मृतक आईएएस की मां, उनका भाई और बहन सीएम से मिलने के लिए उनके दफ्तर पहुंचे थे। 20 मिनट की मुलाकात में परिवार ने मामले की जांच सीबीआई से कराने की गुहार लगाई।
सीएम ने उनकी मांग को स्वीकार करते हुए परिवार को आश्वस्त किया कि वह मामले की सीबीआई जांच कराने के लिए केंद्र को पत्र लिखेंगे।
आईएएस के भाई ने कहा- जांच प्रॉपर तरीके से नहीं हो रही
आईएएस अनुराग तिवारी के भाई ने सीएम से मुलाकात के बाद कहा- हम सीबीआई जांच की मांग करने आए थे। अभी तक की कार्यवाही सही नहीं हुई है। यहां की जांच प्रॉपर तरीके से नहीं हो रही है। अभी तक हमारा बयान भी दर्ज नहीं किया गया।
फॉरेंसिक टीम उठाएगी मौत से पर्दा
आईएएस अधिकारी अनुराग तिवारी की रहस्मयी मौत से पर्दा फॉरेंसिक टीम उठाएगी।
फॉरेंसिक टीम एक्सपेसिया नामक बिमारी की तह तक जाकर उसकी जांच कर रही है। कारण है कि आईएएस अधिकारी अनुराग की मौत की वजह भी एक्सपेसिया बताई गई थी।
फॉरेंसिक एक्सपर्ट का कहना है कि एक्सपेसिया के चार लक्षण होते हैं जिनसे मौत हो जाती है।
पहला हृदय गति रुक जाना, दूसरा किसी सदमे से मौत हो जाना, तीसरा किसी बात का डर मन में रहना जिससे जान जाना और चौथा आकास्मिक मौत हो जाना।
पुलिस जांच पर उठ रही उंगलियां
एसआईटी टीम जिस तरह से आईएएस अधिकारी मामले की जांच कर रही है उस पर उंगलियां उठ रही हैं।
पीड़ित परिवार बार बार मामले में लापरवाही बरतने का आरोप लगा रहा है। परिवार का कहना है कि डिप्टी एसपी स्तर के अधिकारी उच्च पद पर बैठे अधिकारियों के बयान नहीं ले सकता। जिससे मामले की सच्चाई सामने नहीं आ पाएगी।
मृतक आईएएस अनुराग के भाई मयंक तिवारी का कहना है कि कर्नाटक से लेकर यूपी तक के बड़े बड़े अधिकारी इस मामले में शामिल हैं।

 

News Posted on: 22-05-2017
वीडियो न्यूज़