बता दें कि गायकवाड़ पर एअर इंडिया के 60 साल के ड्यूटी मैनेजर से मारपीट का आरोप लगा है। मुझे क्यों माफी मांगनी चाहिए...- गायकवाड़ ने कहा, ''नहीं मांगूंगा माफी। मेरे हाथ में है। गलती उनकी है।

वो आकर पहले माफी मांगें। बाद में देखेंगे।

4:15 की आज की फ्लाइट बुक है मेरी। और उसमें बैठकर जाऊंगा मैं।'' - यह पूछने पर कि अगर आज एअर इंडिया ने जाने नहीं दिया तो क्या करेंगे? इस पर गायकवाड़ ने कहा,''ऐसे कैसे नहीं जाने देंगे। बुक है ना टिकट। पैसेंजर हूं ना मैं।''- ''...और केस का क्या सवाल है? जमानत लूंगा ना मैं। हमारे लॉयर देखेंगे। हमारे उद्धव साहब देखेंगे। मैंने (लोकसभा) अध्यक्ष को लिखा है। (एविएशन) मिनिस्टर को लिखा है।

''क्या बोलीं लोकसभा स्पीकर?-

लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने कहा, ''यह घटना संसद के बाहर हुई है। हम इसके डिटेल्स देखेंगे और उसके बाद कंप्लेंट पर कदम उठाएंगे।''फेडरेशन ने किया बैन से इनकार- फेडरेशन ऑफ इंडियन एयरलाइन्स (एफआईए) ने गायकवाड़ पर फ्लाइट में सफर करने पर बैन लगाने की खबरों से इनकार कर दिया है।- एफआईए के डायरेक्टर उज्जवल डे ने न्यूज एजेंसी से कहा, "सांसद को बैन नहीं कर सकते। हमारे पास किसी को बैन करने का पावर नहीं है। एयर इंडिया किसी भी तरह एफआईए का हिस्सा नहीं है।"- पहले खबर आई थी कि एफआईए ने गायकवाड़ को देश की किसी भी एयरलाइन्स में सफर करने के लिए हमेशा के लिए बैन कर दिया है।

क्या है मामला?-

महाराष्ट्र के उस्मानाबाद से शिवसेना सांसद रवींद्र गायकवाड़ पर एअर इंडिया के करीब 60 साल के ड्यूटी मैनेजर से मारपीट का आरोप लगा। हमले में मैनेजर का चश्मा टूट गया। कपड़े भी फट गए।- घटना गुरुवार सुबह की है। एअर इंडिया के मुताबिक, गायकवाड़ ने बिजनेस क्लास का ओपन टिकट बुक किया था। इससे वे किसी भी दिन ट्रैवल कर सकते थे। लेकिन वे गुरुवार सुबह 7.35 बजे पुणे-दिल्ली आने वाली फ्लाइट (AI852) में बैठने के लिए पहुंच गए। जबकि यह फ्लाइट पूरी तरह से इकोनॉमी क्लास है। 

- सांसद ने मीडिया के सामने खुद हमले की बात मानी।

कहा- ‘मैंने एक इम्प्लॉई को 25 बार सैंडल से मारा। उसने मुझसे बदतमीजी की थी। मैं तो मैनेजर को उठाकर बाहर फेंकने वाला था।’ - इस घटना के बाद एअर इंडिया ने सांसद के खिलाफ दो एफआईआर दर्ज कराईं। सांसद को ब्लैकलिस्ट भी कर दिया।40 मिनट तक फ्लाइट को रोककर रखा गया- स्टाफ ने सांसद को समझाने की कोशिश की। इस दौरान करीब 40 मिनट तक फ्लाइट को पुणे में रोककर रखा गया। बाद में फ्लाइट रवाना हुई, लेकिन जब वे दिल्ली एयरपोर्ट पहुंचे तो सांसद ने नीचे उतरने से इनकार कर दिया।- दूसरी ओर, गायकवाड़ का कहना है कि उनके पास बिजनेस क्लास का टिकट था।उन्हें जानबूझकर इकोनॉमी क्लास में बैठने को कहा गया।

सोचा नहीं था कभी ऐसा भी होगा:

मैनेजर- सांसद के बुरे बर्ताव का शिकार हुए एअर इंडिया के ड्यूटी मैनेजर सुकुमार (60 साल) ने कहा, "सांसद ने मेरे साथ बदसलूकी की, चश्मा भी तोड़ दिया। मैंने कभी नहीं सोचा था कि ऐसा भी हो सकता है। मैंने उन्हें बताया कि वो जो चीज मांग रहे हैं, वह मुमकिन नहीं है। इसके बाद वो बुरे शब्द कहने लगे। जब दूसरी जगह शिफ्ट करने के लिए कहा तो मुझे मारा और शर्ट भी फाड़ दी। अगर सांसदों का ऐसा बर्ताव है तो फिर ईश्वर देश की रक्षा करे।"पहले भी विवाद में रहे हैं गायकवाड़-जुलाई, 2014 में शिवसेना सांसदों ने महाराष्ट्र सदन में आईआरसीटीसी कैटरिंग सर्विस के इम्प्लॉई अरशद जुबैर के मुंह में जबरन रोटी ठूंस दी थी।

जुबैर ने अपनी शिकायत में बताया था कि उस दिन वह रोजे पर था।- पीड़ित ने शिकायत में मुख्य आरोपी राजन विचारे समेत जिन 11 सांसदों के नाम दिए थे। उनमें रवींद्र गायकवाड़ का नाम भी शामिल था। इस मामले ने काफी तूल पकड़ा और संसद में हंगामा हुआ था।तुरंत वॉयलेंट होना ठीक नहीं: मंत्री- इस मामले में शिवसेना से महाराष्ट्र के मिनिस्टर एकनाथ शिंदे ने कहा, "तुरंत वॉयलेंट नहीं हो ठीक नहीं है और किसने पहल की ये भी देखना पड़ेगा।"

"/> -->> Tehalka Today <<--

एयर इंडिया स्टाफ से मारपीट करने पर बुरे फंसे शिवसेना सांसद, FIA ने हवाई सफर पर लगाया बैन

नई दिल्ली. एअर इंडिया के इम्प्लॉई को सैंडिल से पीटने पर शिवसेना के सांसद रवींद्र गायकवाड़ ने कहा है कि वो माफी नहीं मांगेंगे। गायकवाड़ ने कहा कि पहले उस इम्प्लॉई को माफी मांगनी चाहिए। सांसद ने मीडिया से बातचीत में यह भी कहा कि एअर इंडिया की फ्लाइट के बाद तनाव दूर करने के लिए वे "बद्रीनाथ की दुल्हनिया" मूवी देखने चले गए थे।

बता दें कि गायकवाड़ पर एअर इंडिया के 60 साल के ड्यूटी मैनेजर से मारपीट का आरोप लगा है। मुझे क्यों माफी मांगनी चाहिए...- गायकवाड़ ने कहा, ''नहीं मांगूंगा माफी। मेरे हाथ में है। गलती उनकी है।

वो आकर पहले माफी मांगें। बाद में देखेंगे।

4:15 की आज की फ्लाइट बुक है मेरी। और उसमें बैठकर जाऊंगा मैं।'' - यह पूछने पर कि अगर आज एअर इंडिया ने जाने नहीं दिया तो क्या करेंगे? इस पर गायकवाड़ ने कहा,''ऐसे कैसे नहीं जाने देंगे। बुक है ना टिकट। पैसेंजर हूं ना मैं।''- ''...और केस का क्या सवाल है? जमानत लूंगा ना मैं। हमारे लॉयर देखेंगे। हमारे उद्धव साहब देखेंगे। मैंने (लोकसभा) अध्यक्ष को लिखा है। (एविएशन) मिनिस्टर को लिखा है।

''क्या बोलीं लोकसभा स्पीकर?-

लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने कहा, ''यह घटना संसद के बाहर हुई है। हम इसके डिटेल्स देखेंगे और उसके बाद कंप्लेंट पर कदम उठाएंगे।''फेडरेशन ने किया बैन से इनकार- फेडरेशन ऑफ इंडियन एयरलाइन्स (एफआईए) ने गायकवाड़ पर फ्लाइट में सफर करने पर बैन लगाने की खबरों से इनकार कर दिया है।- एफआईए के डायरेक्टर उज्जवल डे ने न्यूज एजेंसी से कहा, "सांसद को बैन नहीं कर सकते। हमारे पास किसी को बैन करने का पावर नहीं है। एयर इंडिया किसी भी तरह एफआईए का हिस्सा नहीं है।"- पहले खबर आई थी कि एफआईए ने गायकवाड़ को देश की किसी भी एयरलाइन्स में सफर करने के लिए हमेशा के लिए बैन कर दिया है।

क्या है मामला?-

महाराष्ट्र के उस्मानाबाद से शिवसेना सांसद रवींद्र गायकवाड़ पर एअर इंडिया के करीब 60 साल के ड्यूटी मैनेजर से मारपीट का आरोप लगा। हमले में मैनेजर का चश्मा टूट गया। कपड़े भी फट गए।- घटना गुरुवार सुबह की है। एअर इंडिया के मुताबिक, गायकवाड़ ने बिजनेस क्लास का ओपन टिकट बुक किया था। इससे वे किसी भी दिन ट्रैवल कर सकते थे। लेकिन वे गुरुवार सुबह 7.35 बजे पुणे-दिल्ली आने वाली फ्लाइट (AI852) में बैठने के लिए पहुंच गए। जबकि यह फ्लाइट पूरी तरह से इकोनॉमी क्लास है। 

- सांसद ने मीडिया के सामने खुद हमले की बात मानी।

कहा- ‘मैंने एक इम्प्लॉई को 25 बार सैंडल से मारा। उसने मुझसे बदतमीजी की थी। मैं तो मैनेजर को उठाकर बाहर फेंकने वाला था।’ - इस घटना के बाद एअर इंडिया ने सांसद के खिलाफ दो एफआईआर दर्ज कराईं। सांसद को ब्लैकलिस्ट भी कर दिया।40 मिनट तक फ्लाइट को रोककर रखा गया- स्टाफ ने सांसद को समझाने की कोशिश की। इस दौरान करीब 40 मिनट तक फ्लाइट को पुणे में रोककर रखा गया। बाद में फ्लाइट रवाना हुई, लेकिन जब वे दिल्ली एयरपोर्ट पहुंचे तो सांसद ने नीचे उतरने से इनकार कर दिया।- दूसरी ओर, गायकवाड़ का कहना है कि उनके पास बिजनेस क्लास का टिकट था।उन्हें जानबूझकर इकोनॉमी क्लास में बैठने को कहा गया।

सोचा नहीं था कभी ऐसा भी होगा:

मैनेजर- सांसद के बुरे बर्ताव का शिकार हुए एअर इंडिया के ड्यूटी मैनेजर सुकुमार (60 साल) ने कहा, "सांसद ने मेरे साथ बदसलूकी की, चश्मा भी तोड़ दिया। मैंने कभी नहीं सोचा था कि ऐसा भी हो सकता है। मैंने उन्हें बताया कि वो जो चीज मांग रहे हैं, वह मुमकिन नहीं है। इसके बाद वो बुरे शब्द कहने लगे। जब दूसरी जगह शिफ्ट करने के लिए कहा तो मुझे मारा और शर्ट भी फाड़ दी। अगर सांसदों का ऐसा बर्ताव है तो फिर ईश्वर देश की रक्षा करे।"पहले भी विवाद में रहे हैं गायकवाड़-जुलाई, 2014 में शिवसेना सांसदों ने महाराष्ट्र सदन में आईआरसीटीसी कैटरिंग सर्विस के इम्प्लॉई अरशद जुबैर के मुंह में जबरन रोटी ठूंस दी थी।

जुबैर ने अपनी शिकायत में बताया था कि उस दिन वह रोजे पर था।- पीड़ित ने शिकायत में मुख्य आरोपी राजन विचारे समेत जिन 11 सांसदों के नाम दिए थे। उनमें रवींद्र गायकवाड़ का नाम भी शामिल था। इस मामले ने काफी तूल पकड़ा और संसद में हंगामा हुआ था।तुरंत वॉयलेंट होना ठीक नहीं: मंत्री- इस मामले में शिवसेना से महाराष्ट्र के मिनिस्टर एकनाथ शिंदे ने कहा, "तुरंत वॉयलेंट नहीं हो ठीक नहीं है और किसने पहल की ये भी देखना पड़ेगा।"

News Posted on: 24-03-2017
वीडियो न्यूज़